Saturday, June 10, 2023
Homeकाम की बातDosa: 55 का दूल्हा 25 की दुल्हन की अनोखी शादी, जिसकी चर्चा...

Dosa: 55 का दूल्हा 25 की दुल्हन की अनोखी शादी, जिसकी चर्चा पूरे प्रदेश में हो रही

- Advertisement -

India News (इंडिया न्यूज़)Dosa,दौसा: राजस्थान के दौसा जिले में हुई एक शादी चर्चा हर तहफ हो रही है। लेकिम ऐसा क्या खास है इस शादी में की यह शादी चर्चा का विषय बन गई। इस शादी में दूल्हा 55 साल का है और दुल्हन की उम्र उसकी आधी यानि 25 साल है। तो वही दूसरी तरफ युवती से शादी करने वाले 55 साल के युवक की उसके गांववाले जमकर तारीफ भी कर रहे हैं।

शादी की चर्चा पूरे जिले में है

दरअसल, दौसा जिले के लालसोट के नवरंग पुरा गांव के रहने वाले बल्लू राम उर्फ बलराम की शादी नापा का बास की रहने वाली विनीता से 3 मई को बड़ी ही धूमधाम के साथ हुई। अब इस शादी की चर्चा पूरे जिले में है। शादी के पीछे की वजह भी हैरान करने वाली बताई जा रही है। दुल्हन दिव्यांग है और वह चलने में पूरी तरह असमर्थ है, वहीं बल्लू राम पूर्ण रुप से स्वस्थ हैं।

बल्लू भगवान शिव की पूजा में जुटा रहता है

बताया जा रहा है कि बीते 31 साल से बल्लू गांव में मौजूद मंदिर में भगवान शिव की पूजा अर्चना में जुटा हुआ रहता है और भोले बाबा की भक्ति के कारण उसके मन में कभी शादी का विचार नहीं आया। बल्लू राम के सात बहन भाई हैं, लेकिन उम्र के अंतिम पड़ाव में उसने शादी करने का निर्णय लिया। फिर बल्लू के लिए परिवार-रिश्तेदारों ने लड़की ढूंढना शुरू कर दिया।

दिव्यांग विनीता की शादी नहीं हो रही

एक दिन बल्लू को जानकरी लगी कि नापा का बास की रहने वाली विनीता दिव्यांग है और उसकी शादी नहीं हो रही है। ऐसे में 31 वर्ष तक भोले बाबा की सेवा करने वाले बल्लू राम ने विनीता से शादी करने का निर्णय लिया है।

विनीता की रीड़ की हड्डी में फ्रेक्चर था

इधर, विनीता के परिवार का कहना है कि विनीता जब 12 साल की थी तब आंगन में लगे पेड़ से नीचे गिरने से उसकी रीड़ की हड्डी में फ्रेक्चर हो गया था। सालों तक उसका इलाज कराया, लेकिन विनीता का कमर के नीचे का हिस्से ने काम करना बंद कर दिया। बेटी के दिव्यांग होने के कारण उसकी शादी नहीं हो पा रही थी। परिवार के मुताबिक बीच में उसके लिए रिश्ता आया था। मगर, वह लड़का भी दिव्यांग था। ऐसे में विनीता का ख्याल कौन रखता इसकी समस्या सामने खड़ी हो रही थी। फिर जब बल्लू राम का रिश्ता आया तो हम लोग राजी हो गए। धूम-धाम से की गई शादी दोनों परिवारों ने बल्लू और विनीता का रिश्ता तय किया और फिर 3 मई को दोनों की पूरे रीति-रिवाजों के साथ शादी कराई गई। बल्लू शेरवानी और साफा पहनकर बारात लेकर पहुंचा था। विनीता के परिवार की महिलाओं ने बल्लू का स्वागत किया और शादी की रस्में निभाईं।

 

 

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular