Monday, September 26, 2022
HomeNationalWe Women Want : लैंगिक राजनीति को महिला आरक्षण विधेयक से परे...

We Women Want : लैंगिक राजनीति को महिला आरक्षण विधेयक से परे ले जाने की जरूरत

इंडिया न्यूज, We Women Want: वी वीमेन वांट पर हमने इस सप्ताह दो अनुभवी पत्रकारों के साथ राजनीति में महिलाओं की स्थिति व जरूरत पर चर्चा की। आईटीवी नेटवर्क की वरिष्ठ कार्यकारी संपादक प्रिया सहगल के साथ बातचीत में दो अनुभवी पत्रकार भी शामिल रहीं। पैनलिस्ट में कुमकुम चड्ढा, वरिष्ठ पत्रकार और लेखक मैरीगोल्ड स्टोरी और कल्याणी शंकर- वरिष्ठ पत्रकार और लेखक भानुमती की बेटियां हैं। दोनों ने राजनीतिक बीट का काम किया है और महिला राजनेताओं सहित विषयों पर उन्होंने किताबें लिखी हैं। बातचीत में लैंगिक राजनीति को महिला आरक्षण विधेयक से परे ले जाने की आवश्यकता पर चर्चा हुई। इसके अलावा अन्य मुद्दों पर भी बातचीत की गई।

बाल मंत्रालय के साथ आज वित्त व रक्षा विभाग की भी जिम्मेदारी

पैनल में शामिल सदस्यों ने कहा कि महिला मंत्रियों को आमतौर पर महिला और बाल मंत्रालय दिया जाता है, लेकिन वर्तमान सरकार के तहत यह बदल गया है। अब महिलाओं को वित्त और रक्षा विभाग की भी जिम्मेदारी दी जा रही है। पैनल में शामिल सदस्यों ने कहा कि आज हमारे पास राष्ट्रपति भवन में भी एक महिला है। यानी राष्टÑपति भी महिला हैं। बातचीत के दौरान विशेष रूप से कुछ पुरुष राजनेताओं के अपनी महिला सहयोगियों के प्रति संरक्षणपूर्ण रवैये पर भी चर्चा की गई।

संसद और विधानसभा स्तर पर अभी बहुत कुछ करना बाकी

सदस्यों ने कहा कि संसद और विधानसभा दोनों स्तरों पर महिलाओं के प्रतिनिधित्व को बढ़ाने के लिए बहुत कुछ किया जाना अभी है। पत्रकार होने के नाते उन्होंने राजनीतिक ताल पर एक महिला होने, देर रात के अभियानों को कवर करने और पुरुष प्रधान समाज में काम करने की तार्किक कठिनाइयों के बारे में भी बात की।

यह है वी वीमेन वांट के पीछे की अवधारणा

वी वीमेन वांट के पीछे की अवधारणा महिलाओं की उपलब्धियों का जश्न मनाना, उन तक पहुंचना और उन लोगों का समर्थन करना है जिन्हें हमारी जरूरत है। इसी के साथ बातचीत को क्यूरेट करना जिसका हर महिला हिस्सा बनना चाहती है। पैनल में शामिल सदस्यों ने कहा, हमने एसिड अटैक सर्वाइवर्स, पैरालिंपियन, महिला राजनेताओं, महिला वकीलों से कानूनी अधिकारों पर संपर्क किया है जो हर महिला को पता होना चाहिए, डिजाइनर, स्तन कैंसर पर डॉक्टर और केस स्टडी के साथ आईवीएफ और अब महिला सीईओ। चूंकि यह दर्शकों पर आधारित शो है, इसलिए हमारे पास कॉलेज के युवा छात्र और पेशेवर भी आते हैं और पैनलिस्टों से प्रासंगिक सवाल करते हैं।

हर शनिवार और रविवार को इस चैनल पर प्रसारित होता है शो

न्यूजएक्स पर हर शनिवार शाम 7:30 बजे ‘वी वीमेन वांट’ के ताजा एपिसोड देखें। कार्यक्रम को प्रमुख ओटीटी प्लेटफॉर्म- डेलीहंट, जी5, एमएक्स प्लेयर, शेमारूमी, वाचो, मजालो, जियो टीवी, टाटा प्ले और पेटीएम लाइवस्ट्रीम पर भी लाइव स्ट्रीम किया जाएगा।

ये भी पढ़ें : We Women Want : शो में दीप्ति नवल ने बताया, कैसे हर लड़की करती है इन समस्याओं का सामना

Connect With Us : Twitter, Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular