Sunday, November 27, 2022
Homeराजस्थानअशोक गहलोत गांधी परिवार के प्रति समर्पण के अलावा कुछ नहीं देख...

अशोक गहलोत गांधी परिवार के प्रति समर्पण के अलावा कुछ नहीं देख सकते: गजेंद्र सिंह शेखावत

- Advertisement -

इंडिया न्यूज़, Jhunjhunu News: केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) और राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के बीच जुबानी जंग जारी है। पिछले कुछ समय से दोनों एक-दूसरे पर लगातार निशान साध रहे हैं। वहीं इसी बीच फिर से शेखावत ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह गांधी परिवार के प्रति समर्पण के अलावा कुछ नहीं देख सकते।

बीजेपी नहीं बताना चाहती इतिहास के बारे में तथ्य

शेखावत ने सोमवार को गहलोत पर पलटवार करते हुए कहा, ‘गहलोत जी को आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ की परिभाषा समझ में नहीं आई, जिसके तहत बीजेपी ने देश में अनजान लोगों को सम्मानित किया। इंदिरा गांधी और जवाहरलाल नेहरू पहले से ही सूची में थे। इससे पहले, गहलोत ने पंडित जैसे नेताओं को भूलने की कोशिश करने के लिए भारतीय जनता पार्टी की खिंचाई की थी।

गहलोत ने भाजपा पर आरोप लगाया था कि बीजेपी हमारे इतिहास के बारे में तथ्य नहीं बताना चाहती। सीएम ने कहा था कि पंडित जवाहरलाल नेहरू के बिना कोई ‘अमृत महोत्सव’ सफल नहीं हो सकता। भाजपा शासन में इंदिरा गांधी का कोई जिक्र नहीं है। कई महान स्वतंत्रता सेनानी थे लेकिन वे उनके बारे में बात नहीं करते हैं। मोदी सरकार इतिहास के बारे में सच नहीं बताना चाहती।

उन चीजों को बता रहे लोगों से छिपाई गई: Gajendra Singh Shekhawat

उनके बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए शेखावत ने कहा, ‘हम इतिहास छिपा नहीं रहे हैं, बल्कि उन चीजों को बता रहे हैं जो जानबूझकर लोगों से छिपाई गई थीं। अब पार्टी उन स्वतंत्रता सेनानियों के नामों का खुलासा कर रही है जिनके नाम हमारे इतिहास की पाठ्यपुस्तकों के पन्नों से मिटा दिए गए हैं। उन्हें भूलने की साजिश है और जब हम ऐसा कर रहे हैं तो पेट में दर्द होना स्वाभाविक है। उन्होंने कहा, “पीएम मोदी ने स्वतंत्रता संग्राम में योगदान देने वाले ऐसे छिपे हुए लोगों का पता लगाने और उन्हें सम्मानित करने की अपील की ताकि स्थानीय लोग भी उनसे प्रेरणा ले सकें।

स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों को कमतर करने की कोशिश कर रही है सरकार

अशोक गहलोत(CM Ashok Gehlot) और गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) के बीच इस वाकयुद्ध से पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कहा था कि मौजूदा सरकार कुछ स्वतंत्रता सेनानियों के महान बलिदानों और उपलब्धियों को कमतर करने की कोशिश कर रही है। सोनिया गांधी ने कहा, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस राजनीतिक फायदे के लिए ऐतिहासिक तथ्यों पर दिए गए गलत बयानों और गांधी-नेहरू-पटेल-आजाद जैसे महान राष्ट्रीय नेताओं से झूठ के आधार पर सवाल करने की हर कोशिश का विरोध करेगी।

ये भी पढ़ें : राजस्थान में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना के 425 नए मामले

Connect With Us : Twitter, Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular