Monday, September 26, 2022
Homeराजस्थानराजस्थान के खाटू श्यामजी मासिक मेले में मची भगदड़, 3 श्रद्धालुओं महिलाओं...

राजस्थान के खाटू श्यामजी मासिक मेले में मची भगदड़, 3 श्रद्धालुओं महिलाओं की मौत, CM गहलोत ने जताया दुख

इंडिया न्यूज़, सीकर (राजस्थान) : राजस्थान के मशहूर खाटूश्यामजी में बाबा श्याम के मासिक मेले में सोमवार सुबह भगदड़ मच गई। इस घटना में 3 महिला भक्तों की मौत हो गई। दरअसल, सुबह 5 बजे जैसे ही मंदिर का प्रवेश द्वार खुला तो भीड़ का दबाव बढ़ गया, भीड़ बेकाबू हो गई और लोग धक्का-मुक्की करने लगे। इस हंगामे में तीन महिला श्याम भक्तों की मौत हो गई जबकि कई श्रद्धालु घायल हो गए।

घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस-प्रशासन पहुंचीं और राहत कार्य शुरू करवाया। फिलहाल इस भगदड़ में घायल सभी लोगों को पास के अस्पाल में भर्ती करवाया गया है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने जताया दुःख

वहीं इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दुख व्यक्त किया। पीएम ने ट्वीट किया, “राजस्थान के सीकर में खाटू श्यामजी मंदिर परिसर में मची भगदड़ में लोगों की मौत से दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। मैं प्रार्थना करता हूं कि जो घायल हुए हैं वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं।”

सीएम गहलोत ने जताया दुख, श्रद्धालुओं के परिजनों को सहायता राशि देंगे

वहीं इस घटना पर राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने दुख जताते हुए कहा, ‘सीकर में खाटूश्याम जी के मंदिर में भगदड़ होने से 3 दर्शनार्थी महिलाओं की मृत्यु बेहद दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरी गहरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं, ईश्वर उन्हें यह आघात सहने की शक्ति प्रदान करें एवं दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करें। भगदड़ में घायल हुए श्रद्धालुओं के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना है।

उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना क्यों हुई इसकी जांच संभागीय आयुक्त द्वारा की जाएगी। इसे अलावा सीएम ने मरने वाले श्रद्धालुओं के परिजनों को 5-5 लाख रुपये एवं घायलों को 20-20 हजार रुपये सहायता राशि देने के भी निर्देश दिए हैं।

हर साल पहुंचते हैं करोड़ों श्रद्धालु

यह मंदिर राजस्थान के शेखावाटी के सीकर जिले में स्थित है। यहां हर साल पूरी दुनिया के कोने-कोने से करोड़ों श्रद्धालु पहुंचते हैं और श्याम बाबा का दर्शन करते हैं। बता दें कि खाटू का श्याम मंदिर बहुत ही प्राचीन है, इसकी आधारशिला सन 1720 में रखी गई थी। मंदिर के इसी परिसर में हर साल बाबा खाटू श्याम का प्रसिद्ध मेला लगता है।

अप्रैल और जनवरी में यहां बने ऐसे हालात

इस बीच, इस साल अप्रैल में, आंध्र प्रदेश के तिरुपति में तिरुमाला मंदिर के टिकट काउंटरों पर भगदड़ जैसी स्थिति में तीन लोग घायल हो गए थे। साथ ही इस साल जनवरी में जम्मू-कश्मीर के कटरा में माता वैष्णो देवी मंदिर में मची भगदड़ में 12 लोगों की मौत हो गई थी।

ये भी पढ़ें : राजस्थान में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार, पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना के 431 नए मामले

Connect With Us : Twitter, Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular