Wednesday, February 1, 2023
Homeराजस्थानराज्यपाल के अभिभाषण पढ़ने पर बीजेपी विधायकों का हंगामा, गहलोत सरकार के...

राज्यपाल के अभिभाषण पढ़ने पर बीजेपी विधायकों का हंगामा, गहलोत सरकार के खिलाफ की जमकर नारेबाजी

- Advertisement -

जयपुर:(Uproar in the House as the budget session begins with the Governor’s address): राजधानी जयपुर में 15वीं राजस्थान विधानसभा का 8वां सत्र सोमवार यानी आज से शुरूआत हो गया है। जैसे ही राज्यपाल कलराज मिश्र के अभिभाषण के साथ सत्र की शुरूआत की वैसे ही बजट सत्र की शुरूआत होने के साथ-साथ ही सदन में जोरदार हंगामा होना शुरु हो गया।

आपको बता दे कि सदन में राज्यपाल कलराज मिश्र ने जैसे ही अभिभाषण पढ़ना शुरू किया वैसे ही बीजेपी विधायकों ने पेपर लीक का मुद्दा उठाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। इस हंगामे में बीजेपी विधायकों ने पेपर लीक का मुद्दा उठाते हुए सीबीआई जांच की मांग की और गहलोत सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

पेपर लीक मामले को लेकर गहलोत सरकार पर बोला हमला

भाजपा विधायकों ने इतना हंगामा किया कि राज्यपाल ने अभिभाषण बीच में छोड़ दिया और उठकर चले गए। दोबारा सदन की कार्यवाही शुरू होने पर भी हंगामा शांत नही हुआ तो स्पीकर डॉ। सीपी जोशी ने आरएलपी के तीन विधायकों को एक दिन के लिए सदन से निष्कासित कर दिया।

सदन में राज्यपाल के अभिभाषण पढ़ना शुरू करते ही नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया खड़े हो गए और पेपर लीक मेमले को लेकर सरकार पर हमला बोल दिया। इस दौरान बीजेपी विधायकों ने ‘राज्य सरकार वीक है, हर पेपर लीक’ है के नारे लगाए।

बीजेपी विधायकों ने पेपरलीक मामले की सीबीआई जांच की मांग की

कटारिया भाषण के बीच में ही खड़े होकर कहने लगे कि राजस्थान में लगातार परीक्षाओं के पेपर लीक हो रहे हैं। युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ हो रहा हैं। आप पर संविधान की रक्षा का दायित्व है, ऐसे कैसे चलेगा। इसके बाद सभी बीजेपी विधायक वेल में आकर नारेबाजी करने लगे।

बीजपी विधायकों ने पेपरलीक मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हुए तख्तियां लहराई। आज सदन में जोधपुर के भूंगरा में शादी समारोह के दौरान हुए सिलेंडर ब्लास्ट में मृतकों को भी सदन में श्रृद्धांजलि दी जाएगी। इससे पहले दिवंगत नेताओं को भी श्रृद्धांजलि दी जाएगी। कार्यवाही स्थगित होने के बाद सीपी जोशी की अध्यक्षता में बीएसी की बैठक होगी।

राज्यपाल ने विपक्ष के हंगामे के बीच अभिभाषण पढ़ना शुरू किया

आपको बता दें कि बीएसी की बैठक में बजट पेश करने की तारीख तय होती है और मौजूदा गहलोत सरकार का यह आखिरी बजट सत्र है जहां इस बार बजट सत्र को दो चरणों में चलने की संभावना है। पहला चरण बजट से पहले होगा, तो वहीं अभिभाषण पर चर्चा के बाद कुछ दिन के लिए विधानसभा की बैठक स्थगित की जाएगी। इसके बाद 8 फरवरी को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बजट पेश करेंगे। सीएम सलाहकार संयम लोढ़ा ने उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव पेश किया है।

लोढ़ा ने विधायकों के इस्तीफों का मामला स्पीकर के पास पेंडिंग होने के बावजूद कोर्ट में याचिका दायर करने को विशेषाधिकार हनन बताते हुए प्रस्ताव पेश किया है। संयम लोढ़ा ने कल विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव सदन में रखने की मंजूरी मांगी है। अब स्पीकर इस पर फैसला करेंगे। उसी पर हंगामा हो रहा है। इधर राज्यपाल ने 21 मिनट तक विपक्ष के हंगामे के बीच अभिभाषण पढ़ना शुरू किया और हंगामे के कारण वह इसे पूरा नहीं पढ़ पाए और इसे बीच में ही छोड़ दिया।

सिलेंडर ब्लास्ट में मृतकों को भी सदन में श्रद्धांजलि दी जाएगी

बता दे कि पिछली बार के हंगामे से बजट सत्र की शुरुआत हुई थी जहां पिछले साल भी बजट सत्र के दौरान पेपर लीक का मुद्दा छाया रहा था। वहीं सदन की कार्यवाही के बाद सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि पेपर लीक की चिंता इनसे ज्यादा हमें है और विपक्ष जानबूझकर यह नाटक कर रहा है ताकि जनता तक हमारी उपलब्धि ना पहुंच सके और हमारी योजनाओं की जानकारी जनता तक नहीं पहुंच सके इसलिए सदन में राज्यपाल का अभिभाषण नहीं होने दिया गया।

 

आपको बता दे कि वहीं राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सदन की कार्यवाही 24 जनवरी यानी कल सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है। वहीं सदन में दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि देने के साथ ही जोधपुर के भूंगरा में शादी समारोह के दौरान हुए सिलेंडर ब्लास्ट में मृतकों को भी सदन में श्रद्धांजलि दी जाएगी। इधर विधानसभा की कार्यवाही स्थगित होने के बाद स्पीकर सीपी जोशी की अध्यक्षता में सदन की कार्य सलाहकार समिति की एक बैठक होगी जहां सत्र के दौरान का कामकाज तय किया जाएगा तो वहीं राज्यपाल के अभिभाषण पर बहस के दिन और उस पर सरकार की तरफ से जवाब का दिन भी तय किया जाएगा।

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular